Home मिडिल ईस्ट तुर्की ने तकसीम स्क्वायर में नए साल के जश्न मनाने पर लगायी...

तुर्की ने तकसीम स्क्वायर में नए साल के जश्न मनाने पर लगायी रोक

source: Tripadvisor

World News Arabia Published Date: 21-December-2017 Time: 03:47 PM

इस्तांबुल: राज्य मीडिया ने बुधवार को स्थानीय अधिकारियों का हवाला देते हुए कहा कि तुर्की के अधिकारियों ने सुरक्षा कारणों को मद्देनज़र रखते हुए  इस्तांबुल के मशहूर तकसीम स्क्वायर में नए साल का जश्न मनाने से इंकार कर दिया है.

इस्तंबुल के बियोग्लू जिले के स्थानीय पुलिस आधिकारी इस्माइल किलिक ने कहा कि पिछले दो सालों से लगातार हो रहे हमलों के बाद इस साल कड़ी सुरक्षा के इंतजामात को दुगना किया जा रहा है.

सरकारी समाचार एजेंसी एनाडोलू ने कहा कि “नए साल के लिए सुरक्षा के इंतजामों का स्तर पिछले सालों मुताबिक इस साल बढ़ा दिए गए है.”

source: Greenprophet

तुर्की ने लगातार हो रहे हमलों के लिए कुर्दीश आतंकवादियों और दाईश समूह को जिम्मेदार ठहराया है. जिसमें 2016-17 के नए साल के जश्न के दौरान इस्तांबुल नाईट क्लब रेना में शूटिंग के दौरान 39 लोगों की मौत हो गयी और इन मौतों का ज़िम्मेदार भी दाईश को ही ठहराया गया था.

मैनहंट में हमलावर के दौरान पुलिस ने कुछ तस्वीरें जारी की थी जो एक डरावने साइलेंट वीडियो से लिया गया था, जिसमें दाईश गनमैन अब्दुलगदिर माशिरिपोव ने हमले को पूरा करने के लिए एलिट वाटरसाइड नाइट क्लब में जाने से पहले, सेल्फी स्टिक के साथ तकसीम स्क्वायर को हथिया लिया था.

इन्ही कारणों की वजह से हम सुरक्षा को दोगुना कर रहे है क्योंकि रेना हमलावर ने इस बार अपनी जगह बदल दी है और उन्हें पता चल चुका है कि तकसीम में कड़ी सुरक्षा के इंतज़ामात किये गए है.

source: PointChaser

 पुलिस छापे में पकड़े जाने के बाद, उज़बेक का रहने वाले नागरिक माशरिपोव ने हमला करने की बात को कबूल किया था और उसने बताया की दाईश के नेताओं ने उसे कहा था कि तकसीम स्क्वायर हमला करने के लिए सही जगह नहीं है, अब हमें किसी नई जगह को निशाना बनाना होगा.

दाईश ने पहली बार इस तरह के खूनखराबे के लिए खुलेआम तुर्की में एक बड़ा हमला करने का दावा किया है.रेना हमले में मारे गये 39 लोगों में 27 विदेशी लोग थे, जिनमें लेबनान, सऊदी अरब, इज़राइल, इराक और मोरक्को के लोग शामिल थे.

इस्तांबुल के लोगों ने बुधवार को तकसीम स्क्वायर पर सरकार के नए साल के जश्न मनाने पर रोक लगाने के फैसले के खिलाफ नारेबाज़ी करते नज़र आये.

source: Arab News