Home मिडिल ईस्ट इन देशों ने किया सीरिया में रासायनिक हमले का समर्थन

इन देशों ने किया सीरिया में रासायनिक हमले का समर्थन

हाल ही में अमेरिका ने सीरिया में होम्स के निकट एक एयरबेस पर टॉमहॉक क्रूज़ मिसाइलों से हमला किया था. इस हमले का ब्रिटेन, सऊदी अरब, तुर्की और इजराइल ने समर्थन किया है. सऊदी अरब ने एक बयान जारी किया है जिसमें अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के फैसले को सही ठहराया गया है.

इतना ही नहीं, इस हमले का दाएश समेत तमाम आतंकवादी संगठनों ने समर्थन किया है. आतंकवादी गुटों का कहना है कि पेंटागन ने इस हमले से सीरिया की वायुसेना की शक्ति को ख़त्म कर दिया है.

सीरिया में अमेरिका के किये गए इस हमले को हाल ही में सीरिया में आतंकवादियों के कब्जे वाले इलाके में हुए रासायनिक हमले की जवाबी कारवाई माना जा रहा है. हालाँकि सीरियाई सेना और सरकार, दोनों ही ने ऐसा कोई भी हमला करने की खबरों का जबरदस्त खंडन किया है.

सीरिया ने अमेरिका के मिसाइल हमले की कड़ी निंदा की है. उन्होंने इसे खुला अतिक्रमण बताया है. शुक्रवार को इस हमले के बाद सीरियाई सेना ने एक बयान जारी किया है, जिसमें कहा गया है कि एयर बेस पर अमरीकी हमले में 6 सीरियाई सैन्य अधिकारियों की मौत हो गई और एयर बेस को बहुत अधिक नुक़सान पहुंचा है.