Home मिडिल ईस्ट किंग सलमान ने ओआईसी बैठक में फिलिस्तीन को लेकर दिया बड़ा बयान

किंग सलमान ने ओआईसी बैठक में फिलिस्तीन को लेकर दिया बड़ा बयान

इस्तांबुल- अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप द्वारा पिछले सप्ताह लिए गए फैसले की “वह जेरूसलम को इज़राइल की राजधानी के रूप में मान्यता देते हैं” से जहाँ पूरे विश्व के नेताओं ने इस फैसले की निंदा की, वही सऊदी किंग ने आज इस्तांबुल में इस्लामी शिखर सम्मेलन में इस फैसले के खिलाफ बड़ा बयान दिया.
दो पवित्र मस्जिदों के कस्टोडियन सऊदी अरब के किंग सलमान बिन अब्दुल अजीज ने कहा कि “जिस क्षेत्र पर इजरायल ने कब्जा किया वह फिलिस्तीनियों का है, उन्होंने कहा कि राज्य ने क्षेत्र संकटों को हल करने के लिए एक राजनीतिक समाधान बुलाया था, जिसमें सबसे महत्वपूर्ण फिलिस्तीन मुद्दा था और पूर्व जेरूसलम को फिलिस्तीन की राजधानी के रूप में स्थापित करना है और फिलीस्तीनियों को उनके अधिकारों को वापस दिलाना है.
सऊदी किंग ने यह बयान जेरूसलम को लेकर 57 सदस्य संगठन इस्लामिक सम्मेलन की बैठक में कहा जो आज तुर्की के इस्तांबुल में आयोजित की गई थी, यह बैठक तुर्की राष्ट्रपति एर्दोगान की उपस्थिति में हुई थी, जिसमें सऊदी अरब किंग ने यह बयान दिया.
सऊदी किंग ने डोनाल्ड ट्रंप द्वारा किये गए फैसले की दोबारा निंदा की और कहा कि फिलिस्तीनियों के अधिकार के खिलाफ पूर्वाग्रह का प्रतिनिधित्व किया जा रहा है जिसे अंतरराष्ट्रीय प्रस्ताव द्वारा गारंटी दी गई है.
बुधवार के शिखर सम्मेलन में तुर्की के राष्ट्रपति एर्दोगान ने पूर्व जेरूसलम को फिलिस्तीन की राजधानी के रूप में मान्यता देने के लिए दुनिया भर के नेताओं को बुलाया था , जबकि फिलिस्तीनी नेता महमूद अब्बास ने पहले ही चेतावनी दी थी कि यह कदम मिडिल ईस्ट में शांति पैदा नहीं करेगा.
इस बैठक में जॉर्डन के महामहिम राजा अब्दुल्ला ii, कुवैत के अमीर, महारानी शेख सबा अल अहमद अल जबर अल सबा, लेबनान के राष्ट्रपति मिसाइल ऑन और अफगानिस्तान के राष्ट्रपति और इंडोनेशिया के राष्ट्रपति शामिल थे.
https://www.youtube.com/watch?v=hTeEoQK399w