फिलिस्तीनी नागरिको के विरुद्ध इस्राइल की बरबरियत से दुनिया वाकिफ हैं. फिलिस्तीन में लगातार मानवाधिकारों का उलंघन हो रहा हैं इसके बावजूद विश्व की मज़बूत ताकते इस्राइल के विरुद्ध कोई सक्रिय कदम नहीं उठा रही हैं.

इस्राइल के इन्ही कृतियों के मद्देनज़र दक्षिण अफ्रीका में फिलिस्तीनी समर्थको ने इसरायली दूतवास के सम्मुख विरोध प्रदर्शन इस्राइली बरबरियत का खंडन किया. जोहानसबर्ग में स्थित इस्राइली दूतवास पर यह विरोध प्रदर्शन इस्राइल के ज़ायोनी शासन द्वारा परीक्षण के बिना फिलीस्तीनी लोगों को हिरासत में लेने के कथित अभ्यास की निंदा करने के लिए किया गया था.

दक्षिण अफ्रीका के एक पूर्व खुफिया मंत्री और एक रंगभेद विरोधी कार्यकर्ता रोंनी कसरील्स ने जल्द से जल्द सभी फिलिस्तीनी कैदियों की रिहाई की मांग की हैं साथ ही उन्होंने दक्षिण अफ्रीकी सरकार से भी आग्रह किया हैं कि इस्राइल से सभी तरह के व्यापर उस वक़्त तक के लिए बंद कर दे जब तक फिलिस्तीनी नागरिको को रिहा नहीं किया जाता हैं.

इस विरोध प्रदर्शन के समय मीडिया से बात करते हुए रोंनी कसरील्स ने कहा कि,”इस्राइली दूतवास को बंद कर देना चाहिए और ूिश वक़्त तक इस्राइल से सभी बंधन तोड़ देने चाहिए जब तक वह फिलिस्तीनी नागरिको को रिहा न कर दे.”

उन्होंने कहा दक्षिण अफ्रीका को इस मुद्दे पर शांत नहीं रहना चाहिए, खासकर पुर्व राष्ट्रपति नेल्सन मेंडेल के बाद. “हम बहुत अच्छी तरह से जानते हैं कि हमारी स्वतंत्रता फिलीस्तीनियों की स्वतंत्रता के बिना अधूरी है.”

इस्राइली दूतवास के बाहर इस विरोध प्रदर्शन का आयोजन फिलिस्तीन एकजुटता अभियान के तहत किया गया था.

Web-Title: Protest against Israel in South Africa

Key-Words: South Africa, Palestine, protest, Israel

न्यूज़ अरेबिया एकमात्र न्यूज़ पोर्टल है जो अरब देशों में रह रहे भारतीयों से सम्बंधित हर एक खबर आप तक पहुंचाता है इसे अधिक बेहतर बनाने के लिए डोनेट करें
डोनेशन देने से पहले इस link पर क्लिक करके पढ़ें Click Here

वर्ल्ड न्यूज़ अरेबिया का यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें :-


आज की पसंदीदा ख़बरें
Loading...

शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here