Home मिडिल ईस्ट बलात्कार के आरोप में बढ़ी दो इसरायली सैनिकों की कैद की अवधि

बलात्कार के आरोप में बढ़ी दो इसरायली सैनिकों की कैद की अवधि

इस्राईल के दो सैनिकों पर एक महिला सैनिक का बलात्कार करने का आरोप लगा है। यह दोनों सैनिक इस समय इस्राईली थल सेना के एक कमांडो हेड क्वाटर में क़ैद और उन पर सैन्य अदालत में मुक़दमा चल रहा है। इन दोनों सैनिकों ने हेड क्वाटर पर ही नशे की हालत में दावा किया है कि यह संबंध दोनों पक्षों की सहमति से बनाए गए थे।

हैफ़ा की सैन्य अदालत ने बलात्कार को आरोपी दो सैनिकों की क़ैद अवधि को बढ़ा दिया है, इन दोनों सैनिकों पर आरोप है कि उन्होंने हैफ़ा के क़रीफ़ अतीत सैन्य ठिकाने पर अपने साथ कार्य करने वाली महिला सैनिक का बलात्कार किया है।

इन दोनों सैनिकों पर बलात्कार, छेड़छाड़ और अप्राकृतिक यौन संबंध बनाने का आरोप है। अदालत के अनुसार इन दोनों आरोपियों के विरुद्ध पर्याप्त गवाह मौजूद हैं जिससे पता चलता है कि इन्होंने यह जुर्म किया है।

यह दोनों सैनिक इस्राईली सेना की जल सेना की कमांडो इकाई “शाईत13” में ड्राइवर का कार्य करते थे और पीड़ित की शिकायत के बाद उनको सेना के सेना आपराधिक जांच विभाग द्वारा गिरफ़्तार किया गया है।

शिकायतकर्ता के अनुसार यह दोनों सैनिक सैन्य छावनी में एक गाड़ी में बैठकर शराब पी रहे थे और उसके बाद उन्होंने बलात्कार किया।

इन दोनों आरोपियों ने जिनका कोई आपराधिक रिकॉर्ड नहीं है कहा है कि सेक्स संबंध दोनों तरफ़ की मर्ज़ी से बनाए गए थे।

शिकायत के जवाब और गिरफ़्तारी के बारे में इस्राईल के सेना ने घोषणा पत्र जारी करके कहा हैः “29 मार्च बुधवार को दो सैनिकों को एक दूसरे सैनिक के बलात्कार के आरोप में गिरफ्तार किय गया है। इन दोनों की क़ैद अवधि को 6 अप्रैल तक के लिए बढ़ा दिया गया है सेना का आपराधिक जांच विभाग छानबीन कर रहा है”

टाइम्स ऑफ इस्राईल ने भी कुछ समय पहले अपनी एक रिपोर्ट में कहा था कि तेल अवीव में रहने वाली 33 प्रतिशत महिलाओं ने कम से कम अपने जीवन में एक बार बलात्कार की पीड़ा झेली है।