Home मिडिल ईस्ट शर्मनाक बयान- फटी जीन्स पहनने वाली महिलाओं का रेप करना राष्ट्रवाद

शर्मनाक बयान- फटी जीन्स पहनने वाली महिलाओं का रेप करना राष्ट्रवाद

जहां पूरी दुनिया में महिलाओं की सुरक्षा की बात होती है, जहां पूरी दुनियाभर के लोग रेप के खिलाफ हैं, वहीं मिस्र के एक प्रमुख दक्षिणपंथी नेता और वकील नबीह अल-वाहश एकमात्र ऐसे शख्स जिहे रेप होना एक राष्ट्रीय कर्तव्य लगता है.

मिस्र की राजधानी काहिरा भी महिलाओं के लिए बेहद असुरक्षित स्थान है, इसका खुलासा पिछले महीने ब्रिटेन के थॉमसन रायटर फाउंडेशन ने अपनी सरकारी वेबसाइट पर एक जांच सर्वेक्षण का परिणाम जारी किया था, जिसमे उन्होंने काहिरा को महिलाओं के लिए असुरक्षित कहा था.

मिस्र के इस नेता की महिलाओं के खिलाफ की गयी इस शर्मनाक टिप्पणी के लिए इन्हें तीन साल की सजा सुनाई गई.

मिस्र के इस विवादित नेता का कहना है की “रिप्ड(फटी) जीन्स पहनने वाली लडकियों का रेप करना राष्ट्रीय कर्तब्य है, अगर कोई ऐसा करता है तो समझ लो की वह राष्ट्रीय फर्ज़ निभा रहा है”.

उन्होंने यह बयान टीवी के एक डिबेट में कहा, उन्होंने कहा की “अगर कोई लड़की सड़क पर फटी जीन्स पहनकर जाती है और उसका आधा शरीर दिख रहा हो तो क्या आपको यह देखकर खुशी होगी?” आगे उन्होंने कहा की “मैं तो ये कहता हूं कि जब कोई लड़की ऐसी हालत में घूमे तो उसका यौन शोषण करना ही देशभक्ति है और उसका रेप करना तो राष्ट्रीय कर्तव्य है”

उन्होंने कहा की “शिष्टाचार की रक्षा करना हमेसा सीमा पर सुरक्षा देने वाले सैनिक से बढ़कर  होती है” उन्होंने किसी भी महिला की इज्जत को शिष्टाचार से बढ़कर कहा. उन्होंने कहा की फटी जीन्स पहनकर महिलाएं पुरुषो को यौन शोषण का न्यौता देती हैं.”

नबीह के इस बयान से मिस्र में महिलाओं में आक्रोश बढ़ गया और उन्होंने नबीह को गिरफ्तार करने की शिकायत की. नबीह इससे पहले भी विवादों में घिर चुके हैं,नबीह को इस बयान के लिए 75,000 का जुर्माना पड़ा है.