Home एशिया भारत और इजराइल के बीच 500 मिलियन डॉलर की डील हुई रद्द

भारत और इजराइल के बीच 500 मिलियन डॉलर की डील हुई रद्द

सौजन्य से -मिडिल ईस्ट मॉनिटर

World News Arabia published date-05-Jan-2018 time-11:17 AM

भारत ने इजरायल के प्रधान मंत्री बेंजामिन नेतान्याहू द्वारा दिल्ली की अधिकारिक यात्रा से पहले 500 मिलियन डॉलर के एंटी टैंक मिसाइल समझौते को रद्द कर लिया है.
प्रोडक्शन कंपनी राफेल एडवांस्ड डिफेंस सिस्टम के प्रवक्ता ने बताया की “राफेल को भारत के रक्षा मंत्रालय से एक आधिकारिक सूचना प्राप्त हुई है की भारत ने स्पाइक डील को रद्द कर दिया है, हालांकि भारत ने राफेल के साथ 70 मिलियन डॉलर के दूसरी डील को जारी रखा है, इस डील के तहत  इज़राइली कंपनी भारत को सतह से जमीन पर मार करने वाली 131 मिसाइल बनाकर देने वाली है.

नवंबर में, फेडरेशन ऑफ इंडो-इजरायल चैम्बर्स ऑफ कॉमर्स के वाइस चेयरमैन डेविड क्युनन ने चेतावनी दी कि “इस सौदे को रद्द करने से पूरे बाजार पर गंभीर असर पड़ सकता है” “यह एक बहुत ही ज्यादा महत्वपूर्ण डील है, इसका ना केवल डिफेंस बिज़नस पर असर होगा बल्कि इसका असर सभी बिज़नस पर होगा.”

भारत के मीडिया के अनुसार, स्पाइक डील को रद्द करने का निर्णय भारत की अपनी एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल के विकास की सुविधा है, जिसका वर्तमान में निर्माण किया जा रहा है.

पिछले जुलाई में, भारतीय प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने इज़राइल का दौरा करने वाले पहले भारतीय बन गए थे, वहीं इजरायल के प्रधान मंत्री बेंजामिन नेतन्याहू भी भारत की यात्रा करने के लिए तैयार हैं. इस यात्रा में राफेल डिफेंस सिस्टम के प्रतिनिधियों को प्रतिनिधिमंडल में शामिल होने की संभावना है.

इज़राइल भारत में एक प्रमुख रक्षा आपूर्तिकर्ता बन गया है, जो हर साल लगभग 1 अरब डॉलर के सैन्य उपकरणों की बिक्री करता है. दोनों देशों ने हाल के महीनों में अपने संबंधों को मजबूत किया है, नवंबर में पहले संयुक्त सैन्य ड्रिल में हिस्सा लेते हुए और पिछले महीने वीजा प्रतिबंधों को आसान बनाते हुए, भारत ने यह भी घोषणा की है कि ईरान में इसने इजरायल के पक्ष में अपने निवेश को घटा दिया है.