Home मिडिल ईस्ट क़तर में न हो दूध की कमी, 51 करोड़ खर्च कर 4000...

क़तर में न हो दूध की कमी, 51 करोड़ खर्च कर 4000 गाय एयरलिफ्ट करवा रहा ये कारोबारी

कुछ वक़्त से गाय भारत में तो चर्चा का विषय बनी ही हुई है लेकिन अब इसकीचर्चा अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भी काफी हो रही है. इसकी वजह है क़तर का एक कारोबारी. हाल ही में सऊदी अरब समेत मिस्र, यूएई, बहरीन समेत 6 देशों ने कतर के साथ राजनयिक और यात्रिक संबंध खत्म कर दिए थे. खाड़ी देशों का आरोप था कि कतर फिलिस्तीन में हमास और ईरान में शिया कट्टरपंथी संगठनों को समर्थन दे रहा है. संबंध खत्म होने के चलते कतर में खाने-पीने की सप्लाई के कम होने या फिर खत्म होने के कयास लगाए जा रहे हैं क्योंकि कतर का आधे से ज्यादा खाने-पीने का सामान पड़ोसी मुल्कों से आयात होता है.

कतर में दूध की अधिकांश आपूर्ति निर्यात से होती है. कतर में दूध की कोई कमी न हो इसके लिए खैय्यात 4,000 गाय कतर के लिए एयरलिफ्ट करवाएंगे और इस काम के लिए लगभग 60 फ्लाइट्स का सहारा लिया जाएगा. खैय्यात पावर इंटरनेशनल होल्डिंग्स के चेयरमैन हैं. खैय्यात ने बताया कि गायों को अमेरिका और ऑस्ट्रेलिया से खरीदा जाएगा और फिर उन्हें एयरलिफ्ट किया जाएगा.

खैय्यात ने कहा कि उन्होंने गायों को एयरलिफ्ट करने के बजाय पहले समुद्र के रास्ते से लाने का विचार किया था लेकिन विवादों को देखते हुए उन्होंने एयरलिफ्ट कराने का फैसला लिया. खैय्यात की कंपनी डेरी कारोबार में भी ऐक्टिव है और उनकी कंपनी इसी महीने के अंत तक अपने ऑपरेशन्स शुरू करेगी. खबरों के मुताबिक कतर में खाने की सप्लाई पर कोई असर न पड़े इसके लिए ईरान और तुर्की भी उसकी मदद कर रहे हैं. दोनों ही देशों ने कतर को खाने की काफी सामग्री भेजी है और ज़रूरत पड़ने तक आपोरती निर्बाधित रखें का आश्वासन भी दिया है और सुरक्षा के मद्देनजर तुर्की ने अपनी सेना तैनात करने की बात भी कही है.