Home मिडिल ईस्ट गुटेरस व पुतिन ने स्वतंत्र फिलिस्तीन देश के गठन का समर्थन किया

गुटेरस व पुतिन ने स्वतंत्र फिलिस्तीन देश के गठन का समर्थन किया

संयुक्त राष्ट्र संघ के महासचिव और रूस के राष्ट्रपति ने स्वतंत्र फ़िलिस्तीन देश के गठन का समर्थन किया है।

महासचिव अंटोनियो गुटरस ने फ़िलिस्तीनी जनता से समरसता के विश्व दिवस के उपलक्ष्य में अपने संदेश में कहा है कि स्वतंत्र फ़िलिस्तीन देश के गठन का समय आ गया है। उन्होंने कहा है कि फ़िलिस्तीन समस्या संयुक्त राष्ट्र संघ के इतिहास की हल न होने वाली सबसे पुरानी समस्याओं में से एक है।

गुटेरस ने महासभा में सत्तर साल पहले पारित होने वाले प्रस्ताव क्रमांक 181 की ओर संकेत करते हुए कहा कि अभी स्वाधीन और प्रभुसत्ता वाला फ़िलिस्तीन देश अस्तित्व में नहीं आया है। महासचिव अंटोनियो गुटेरस ने अपने संदेश में बल देकर कहा है कि फ़िलिस्तीन के अतिग्रहित क्षेत्रों में पचास से अधिक वर्षों से जारी अतिग्रहण ख़त्म होना चाहिए।

दूसरी ओर रूस के राष्ट्रपति विलादिमीर पुतीन ने अपने भविष्य निर्धारण में फ़िलिस्तीनी जनता के अधिकार के समर्थन पर आधारित अपने देश की सैद्धांतिक नीति पर बल दिया है। फ़िलिस्तीनी जनता से समरसता के विश्व दिवस के उपलक्ष्य में उन्होंने फ़िलिस्तीनी प्रशासन के प्रमुख महमूद अब्बास को एक टेलीग्राफ़ भेज कर कहा है कि संयुक्त राष्ट्र संघ की सुरक्षा परिषद के स्थायी सदस्य और चार पक्षीय अंतर्राष्ट्रीय समिति का सदस्य होने के नाते रूस अपने भविष्य निर्धारण के फ़िलिस्तीनी जनता के हक़ का समर्थन करता है।

उन्होंने कहा कहा कि उनका देश ज़ायोनी अतिग्रहणकारियों के चंगुल से फ़िलिस्तीनी धरती की मुक्ति और बैतुल मुक़द्दस की राजधानी वाले स्वतंत्र फ़िलिस्तीनी देश के गठन की आवश्यकता पर बल देता है।

ज्ञात रहे कि फ़िलिस्तीनी जनता की मांगों की पूर्ति के बारे में संयुक्त राष्ट्र संघ के अनेक प्रस्तावों और विश्व समुदाय की निरंतर मांगों की अनदेखी करते हुए ज़ायोनी शासन, अमरीका के समर्थन से लगातार फ़िलिस्तीन पर अवैध क़ब्ज़ा जारी रखे हुए है और इन क्षेत्रों में जघन्य अपराध कर रहा है।