Home मिडिल ईस्ट एर्दोगान ने ‘अफरीन ऑपरेशन’ के लिए खुद किया साउथ हटे शहर का...

एर्दोगान ने ‘अफरीन ऑपरेशन’ के लिए खुद किया साउथ हटे शहर का दौरा

source-DAILY SABAH

राष्ट्रपति रसेप तय्यिप एर्दोगान ने गुरुवार को उत्तर पश्चिमी सीरिया के अफ्रिन सीमा से घेरे दक्षिणी हटे प्रांत में तुर्की सैन्य यूनिट्स का निरीक्षण किया और अफ्रिन क्षेत्र में पीकेके / पीवाईडी / वाईपीजी और दाईश आतंकवादियों को निशाना बनाते हुए ऑपरेशन ओलिव ब्रांच को जारी रखा.

एर्दोगान ने जनरल स्टाफ हुलुसी के साथ चल रहे अफ्रिन काउंटर-आतंक के ऑपरेशन के छठे दिन ऑपरेशन बेस का दौरा किया.

उप-प्रधानमंत्री बेकिर बूजदाग, रक्षा मंत्री नूरटिटिन कैनकली और तुर्की सशस्त्र बलों के जनरल कमांडर यसदर गुलर के भूमि बलों के कमांडर भी हाई प्रोफ़ाइल यात्रा के दौरान उपस्थित थे.

राष्ट्रपति एर्दोगान की अचानक इस दौरे से एर्दोगान और प्रधान मंत्री बिनिलि यिलिर्दी के बीच होने वाली एक बैठक को स्थगित कर दिया गया.

तुर्की जनरल स्टाफ के अनुसार, ऑपरेशन ओलिव ब्रांच का उद्देश्य तुर्की सीमाओं और क्षेत्र में सुरक्षा और स्थिरता स्थापित करना है, साथ ही आतंकवादियों के उत्पीड़न और क्रूरता से सीरियाई लोगों की रक्षा करना है.

इस अभियान को अंतरराष्ट्रीय कानून, यू.एन. सुरक्षा परिषद के प्रस्तावों के तहत तुर्की के अधिकारों के तहत किया जा रहा है, यह यू.एन. चार्टर और सीरिया के क्षेत्रीय अखंडता के प्रति सम्मान के तहत आत्मरक्षा का अधिकार है.

डेली सबाह के अनुसार, सैन्य ने कहा कि “किसी भी नागरिकों को नुकसान नहीं पहुचाये जाने पर अत्यधिक ध्यान दिया जा रहा है.”

अफ्रिन जुलाई 2012 के बाद से वाईपीजी / पीकेके के लिए एक बड़ा ठिकाने का केंद्र रहा है, जब सीरिया में असद शासन ने बिना किसी लड़ाई के शहर को आतंकवादी समूह के हवाले छोड़ दिया था.