Home मिडिल ईस्ट सीरिया पर अमेरिकी हमले पर आया अयातुल्लाह खामेनेई का बयान

सीरिया पर अमेरिकी हमले पर आया अयातुल्लाह खामेनेई का बयान

कुछ विश्लेषण कहते हैं कि “सीरिया पर अमरीकी हमले जैसे दूसरे हमले दुनिया के दूसरे स्थानों पर भी किए जा सकते हैं”.. निसंदेह, अपराध, अतिक्रमण, ग़लती, और घुसपैठ जैसी चीज़ें अमरीकी कर सकते हैं और उन्होंने इस प्रकार के कार्य दुनिया के अलग अलग कोनों में किए हैं, लेकिन महत्वपूर्ण बात यह है कि वह दुनिया में कहां इस प्रकार का कार्य करने की हिम्मत रखते हैं?
इस्लामी गणतंत्र ईरान ने दिखा दिया है कि वह इस प्रकार की बेकार की बातों और ग़लत कार्यों से मैदान से हटने वाला नहीं है और जो अधिकारी इस्लामी क्रांति में विश्वास रखते हैं, वह अल्लाह पर विश्वास के साथ धमकियों और बहकावों से पीछे हटने वाले नहीं है, क्योंकि अगर पीछे हटना ही होता तो आय यह देश आत्मिक और सांस्कृतिक रूप से कंगाल हो चुका होता।
अमरीकियों ने जो कार्य किया है वह एक रणनीतिक ग़लती है और वह अपने पूर्वजों की ग़ल्तियों तो दोहरा रहे हैं।
अमरीका के पिछले अधिकारों ने दाइश को पैदा किया या उसकी सहायता की और आज के अधिकारी भी दाइश या उसके जैसे गुटों को शक्तिशाली बनाने में लगे हुए हैं। इन गुटों का ख़तरा भविष्य में अमरीका का भी गरेबान पकड़ लेगा, जैसा कि यूरोपीय इस समय तकफ़ीरी गुटों के कारण सुरक्षित नहीं है।