Home मिडिल ईस्ट टर्की की चार संसद दलों ने अमेरिका के खिलाफ संयुक्त बयान में...

टर्की की चार संसद दलों ने अमेरिका के खिलाफ संयुक्त बयान में हस्ताक्षर किये

टर्की संसद की चार पार्टियों ने बुधवार को एक सहमती पत्र पर हस्ताक्षर किये जो की अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के खिलाफ था, जिसका संकल्प था की वह अमेरिकी राष्ट्रपति के फैसले को अस्वीकार करेंगे.

सत्तारूढ़ न्याय और विकास पार्टी (एके पार्टी), मुख्य विपक्षी रिपब्लिकन पीपुल्स पार्टी (सीपीपी), नेशनलिस्ट मूवमेंट पार्टी (एमएचपी) और पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (एचडीपी) ने सहमती पर हस्ताक्षर किये जिसमे लिखा है की “यह पार्टी अमेरिका के राष्ट्रपति द्वारा लिए गए फैसले की “जेरुसलम इसराइल की नई राजधानी है” के खिलाफ है, यह इस बात को कभी भी समर्थन नहीं देगी, क्योंकि यह निर्णय अंतर्राष्ट्रीय कानून के खिलाफ है.”

राष्ट्रपति एर्दोगान ने भी इस फैसले की निंदा की और कहा की इस फैसले से आतंकवादी संगठनों को बढ़ावा मिलेगा.”

जॉर्डन किंग अब्दुल्ला के साथ एक सम्मेल्लन में एर्दोगान ने कहा की “जॉर्डन और टर्की ने जेरुसलम के बारे में एक ही विचार प्रस्तुत किये हैं”

एर्दोगान ने कहा की “यह गलत कदम इस्लामी दुनिया में क्रोध का कारण होगा. उन्होंने कहा की शांति और घरेलू राजनीति के लिए मिडिल ईस्ट में सुरक्षा का बलिदान नहीं किया जा सकता.

अपने चुनावी अभियान के दौरान अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने तेल अवीव से यरूशलेम तक इसराइल में देश के दूतावास को स्थानांतरित करने का वायदा किया था, हाल ही में उठाया गये इस कदम का फ्रांस, यू.के., यूरोपीय संघ, तुर्की और अरब लीग सहित कई विश्व नेताओं ने विरोध किया है.

तुर्की ने दृढ़तापूर्वक इस फैसले के खिलाफ प्रतिक्रिया दी और यू.एस. को चेतावनी दी, राष्ट्रपति एर्दोगान ने चेतावनी दी कि देश इसराइल के साथ डिप्लोमेटिक संबंधों को कम कर सकता है.