Home यूरोप जानिये ट्रम्प ने क्यों कहा की ‘दुनिया शांति चाहती है, मौत नही’?

जानिये ट्रम्प ने क्यों कहा की ‘दुनिया शांति चाहती है, मौत नही’?

World News Arabia Published Date: 23-December-2017 Time: 04: 50 PM

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की सर्वसम्मति से उत्तर कोरिया पर हाल ही में लांच की गयी बैलिस्टिक मिसाइल के प्रतिबंधों को मंजूरी दे दी है. चीन की सहायता के साथ, संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने शुक्रवार को उत्तर कोरिया पर नए प्रतिबंध लगा दिए गए है, जो प्योंगयांग के मिसाइल और परमाणु कार्यक्रमों के लिए तेल की आपूर्ति पर भी रोक लगेगा.

परिषद ने सर्वसम्मति से एक यूएस-ड्राफ्ट रिज़ॉल्यूशन को अपनाया है जो कि उत्तर कोरिया के कर्मचारियों को किम जोंग-उन के शासन के लिए कमाई करने वालो को उनके देश वापस लौटना होगा.

इस साल प्योंगयांग पर लगाए जाने वाला यह तीसरा सबसे बढ़ा प्रतिबन्ध है. अमेरिका और उत्तर कोरिया ने कोई इशारा नहीं किया है कि वे कोरियाई प्रायद्वीप पर संकट समाप्त होने पर वार्ता करने को तैयार है.

source: The Economic Times

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने शुक्रवार को प्रतिबंधित फैसला लेते हुए कहा कि अंतर्राष्ट्रीय समुदाय ने दुनिया भर में शांति के रखने के लिए इस तरह का कदम उठाया है.

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद् ने उत्तर कोरिया पर अतिरिक्त प्रतिबन्धों के पक्ष में 15-0 मतदान दिए. वहीँ ट्रम्प ने ट्वीट किया कि “दुनिया शांति चाहती है, मौत नहीं!”

source: Ring of Fire Radio

प्रस्ताव ने उत्तर कोरिया में लगभग 75 प्रतिशत परिष्कृत तेल उत्पादों की आपूर्ति पर भी रोक लगाई है, कच्चे प्रसव पर भी रोक लगाई है और सभी उत्तरी कोरियाई नागरिकों को विदेश में काम करने के लिए 2019 के आखरी तक सभी को उनके देश वापस भेजने के आदेश भी दिए है.

अमेरिका ने चीन, प्योंगयांग और तेल के मुख्य सप्लायर के साथ बातचीत के बाद गुरुवार को मसौदा प्रस्ताव को आगे बढाया. उत्तर कोरिया को “आधुनिक दुनिया का सबसे दुखद उदाहरण” बताते हुए, अमेरिकी राजदूत निक्की हेली ने कहा कि रोक लगाने वाला फैसला “किम शासन की कार्रवाई में अंतरराष्ट्रीय नाराजगी ज़ाहिर करता है. “उन्हीने यह भी कहा कि प्रस्ताव ने “प्योंगयांग को चेतावनी दी है कि भविष्य में अगर उत्तर कोरिया ने इस तरह की हरकतें की तो और भी सक्त कार्यवाही की जाएगी.”

source: ThaiResidents