Home यूरोप आयरलैंड का अगला प्रधानमंत्री होगा एक भारतीय प्रवासी, पहले भी रहे हैं...

आयरलैंड का अगला प्रधानमंत्री होगा एक भारतीय प्रवासी, पहले भी रहे हैं चर्चा में

साल 2015 में अपने समलैंगिक होने की घोषणा करने वाले भारतीय अप्रवासी डॉक्टर लीयो वराडकर का आयरलैंड का प्रधानमंत्री बनना तय माना जा रहा है. लीयो की सत्ताधारी फाइन गेल पार्टी शुक्रवार (2 जून, 2017) को उनके नेतृत्व में चुनाव जीता है. कहा जा रहा है कि इस महीने के आखिर तक ताओसीच का पद संभालने के साथ ही वह आयरलैंड के अबतक के सबसे कम उम्र के प्रधानमंत्री बन जाएंगे.

बता दें कि आयरलैंड में प्रधानमंत्री पद को ताओसीच कहा जाता है. डबलिन के मेनशन हाउस में मतगणना के बाद 38 साल के लीयो को पार्टी का 11वां नेता घोषित किया गया. वराडकर को चुनाव में तीन इलेक्टोरल कॉलेज में 60 फीसदी वोट मिले हैं जबकि उनके प्रतिद्वंदी साइमन कोविनी को 40 प्रतिशत मत मिले हैं. वराडकर की जीत का उनके परिवार ने भारत में भी जश्न मनाया.

मुंबई में रहने वाली उनकी बहन शुभदा ने कहा कि हम इस खबर से काफी खुश हैं. हम अभियान और मतगणना पर नजर बनाए हुए थे. परिणाम की घोषणा होते ही हमने केक काटा और उनकी कामयाबी का जश्न मनाया. उन्होंने आगे कहा कि मैंने अभी आयरलैंड जाने पर निर्णय नहीं लिया है, लेकिन मैं जल्द से जल्द उनसे मुलाकात करूंगी.

जानी-मानी नृत्यांगना शुभदा वराडकर ने नतीजे से पहले कहा था कि हम स्वतंत्रता सेनानियों के ऐसे परिवार से आते हैं जिन्होंने 1960 के दशक में अपने पंख मुंबई और आयरलैंड में फैलाए. लियो के पिता डॉक्टर हैं और उन्होंने आयरलैंड की नर्स से शादी की है. लियो खुद भी पेशे से डॉक्टर हैं. लियो और उनके माता-पिता मुंबई आते रहते हैं. हमारे पैतृक गांव भी जाते हैं.

केइएम हॉस्पिटल से इंटर्नशिप करनेवाले लीयो जब खेल मंत्री थे तब भी आयरलैंड की क्रिकेट टीम के साथ मुंबई आये थे. शुभदा ने बताया कि हमारा बहुत बड़ा परिवार है. जब आयरलैंड वाला परिवार भारत आता है, तो हमारे घर में तकरीबन 60 लोग इकट्ठे हो जाते हैं.