Home एशिया चीन, रूस और कोरिया के लिए सन्देश था अफगानिस्तान में मदर ऑफ़...

चीन, रूस और कोरिया के लिए सन्देश था अफगानिस्तान में मदर ऑफ़ आल बम्स का धमाका

रिपब्लिकन पार्टी के अमरीकी सीनेट माइकल मैक कॉलेन ने कहा है कि अफ़गानिस्तान में मदर ऑफ़ आल बम का धमाका चीन, रूस और उत्तर कोरिया के लिए एक संदेश था और हमे आशा है कि इन देशों की लीडरों ने हमारे संदेश को प्राप्त कर लिया होगा।

उन्होंने कहा कि ऐसा लगता कि कुछ देशों के नेता जिसमें पुतिन भी शामिल हैं, ने हमारे संदेश को प्राप्त नहीं किया है। उन्होंने कहा कि रूस के राष्ट्रपति को को यह मानना होगा कि वह सीरिया जैसा कार्य अफगानिस्तान में नहीं कर सकते हैं। मास्को द्वारा तालेबान को हथियार पहुँचाना निराश करने वाला है जो दिखाता है कि हमारे संदेश को समझने के लिए मास्कों को बड़े सिगनल की ज़रूरत है।

उन्होंने कहा कि मैंने रक्षा मंत्रालय के अधिकारियों से मुलाकात में अपना दृष्टिकोण स्पष्ट कर दिया है, और अब भी स्पष्ट रूप से कह रहा हूँ मध्य एशिया में कट्टरपंथी इस्लामी संगठनों और चीन के शीन कियांग को संगठित करने में पेंटागन द्वारा की जाने वाली देरी ने ही मास्को की इस बात की अनुमति दी है कि वह इस कार्य में बाधा डालने के लिए तालेबान को हथियारबंद करे।

उल्लेखनीय है कि नाटो बल के कमांडर क्रिस्टन स्का पार्टी ने दावा किया है कि मास्को तालेबान को हथियार दे रहा है, जिस पर रूस ने कड़ी प्रतिक्रिया दिखाई है।