Home एशिया अफगानिस्तान में शिया-सुन्नी धर्मगुरुओं ने दिया मुस्लिम एकता पर जोर

अफगानिस्तान में शिया-सुन्नी धर्मगुरुओं ने दिया मुस्लिम एकता पर जोर

दाइश द्वारा अलज़हरा मस्जिद पर हमले के बाद शिया और सुन्नी उलेमा ने मुस्लिम एकता पर जोर दिया है।

गुरुवार को काबुल में शिया मस्जिद अलज़हरा पर दाइश ने हमला किया था, इस हमले के बाद अफगानिस्तान के शिया सुन्नी उलेमा ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि: दाइश का समुदायों के बीच युद्ध करवाने परियोजना असफल हो गई हैं, शिया और सुन्नी में कोई मतभेद नहीं है।

अफगानिस्तान उलेमा परिषद के प्रमुख मौलवी कयामुद्दीन कशाफ ने इस संवाददाता सम्मेलन में कहा है कि अफगानिस्तान में शिया सुन्नी की एकता अभूतपूर्व है। दुश्मन चाहता है कि हमारे बीच मतभेद पैदा कर दे, पर वह अपने इस उद्देश्य में सफल नहीं होंगे।

हालांकि 40 साल से अफगानिस्तान में सुरक्षा और आर्थिक कठिनाइयों है, पर कभी धार्मिक मतभेद नहीं हुए हैं, और हमेशा शिया सुन्नी भाइयों की तरह साथ रहते हैं।