Home एशिया नेतन्याहू ने कहा की “वह भारत से थे नाराज”, परन्तु मोदी से...

नेतन्याहू ने कहा की “वह भारत से थे नाराज”, परन्तु मोदी से हैं उनके “विशेष सम्बन्ध”

source-twitter

इसराइल के प्रधानमन्त्री बेंजामिन नेतान्याहू ने कहा की “वह जेरुसलम निर्णय में भारत के फैसले से निराश थे परन्तु इससे वह अपने भारत दौरे को खराब नहीं करना चाहते थे”.

नेतान्याहू ने यह भी वादा किया की “वह 2008 में मुंबई में मरे यहूदी दंपत्ति के हत्यारों का पता भी लगायेंगे, जिनका बेटा भारत यात्रा में उनके साथ आये हैं.

नेतानाय्हू ने एक प्रेस कांफ्रेस में कहा की “उनका भारत के प्रधानमन्त्री नरेंद्र मोदी के साथ एक “विशेष सम्बन्ध” है.” लेकिन भारत ने पिछले महीने यूएन में हुई वोटिंग में इसराइल का पक्ष न लेकर फिलिस्तीन का पक्ष लिया है, जिस पर मै स्वाभाविक रूप से निराश हूँ परन्तु यह यात्रा यह दर्शाती है की “इतने सारे मुद्दों के बावजूद भी हम अपने संबंधो को नहीं भूले हैं और हम आगे बढ़ रहे हैं”.

इस यात्रा से पहले भारत ने इस्राइली स्पाइक एंटी टैंक मिसाइलों के लिए 500 मिलियन डॉलर का एक कॉन्ट्रैक्ट भी रद्द कर लिया था.

इज़राइल हर साल भारत में लगभग 1 अरब डॉलर के सैन्य उपकरणों का निर्यात करता है, लेकिन मोदी दुनिया के शीर्ष रक्षा आयातक के रूप में भारत का दर्जा चाहते हैं.

नेतान्याहू ने कहा की “मुझे उम्मीद है कि इस यात्रा से इस मुद्दे को सुलझाने में मदद मिल सकती है क्योंकि मुझे लगता है कि उचित मौके को देखकर हम एक समाधान तक पहुँच सकते हैं, जो दोनों देशों के हित में हो”.

नेतान्याहू ने कहा की “हमारे डिफेंस सम्बन्ध काफी महत्वपूर्ण हैं और इसमें कई चीजें शामिल हैं. “मुझे लगता है कि कीवर्ड रक्षा है, हम खुद का बचाव करना चाहते हैं हम आक्रामक राष्ट्र नहीं हैं, लेकिन यह सुनिश्चित करने के लिए बहुत प्रतिबद्ध हैं कि कोई भी हमारे खिलाफ आक्रामकता नहीं ला सकता है “

नेतान्याहू 15 साल में भारत आने वाले पहले इजरायल के नेता हैं. प्रधान मंत्री और उनकी पत्नी सारा का स्वागत दिल्ली की नई दिल्ली हवाई अड्डे पर भारत के प्रधानमन्त्री मोदी द्वारा किया गया, मोदी, जिन्होंने जुलाई में इतिहास बना दिया जब वह इसराइल की यात्रा करने वाले पहले भारतीय नेता बने.

मोदी ने यह भी कहा की “ऐतिहासिक” यात्रा दोनों देशों के घनिष्ठ मित्रता को आगे बढ़ाएगी. नेतन्याहू को इस यात्रा से भारत के साथ ऊर्जा, विमानन और सिनेमा उत्पादन में नए समझौतों पर हस्ताक्षर करने की उम्मीद है. वह ताज महल और मोदी के गृह राज्य गुजरात की यात्रा के साथ-साथ मुंबई में बॉलीवुड सितारों के साथ बैठकें भी आयोजित करेंगे.

लेकिन वह 2008 के मुंबई हमलों में यहूदी सेंटर की भी यात्रा करेंगे, जिसमे कई यहूदियों की मौत्त हो गयी थी, जो की भारत के छोटे यहूदी समुदाय के लिए प्रतीकात्मक संकेत है.

नेतन्याहू के साथ 11 वर्षीय मोसे होल्ट्ज़बर्ग भी हैं, जिनके माता-पिता शहर में समन्वयित हमले में पाकिस्तानी उग्रवादियों द्वारा की गई 166 लोगों के बीच थे.