Home अरब देश जल्द ही सऊदी महिलाओं को ट्रैफिक पुलिस फाॅर्स में शामिल किया जायेगा

जल्द ही सऊदी महिलाओं को ट्रैफिक पुलिस फाॅर्स में शामिल किया जायेगा

SOURCE- STEP FEED

वर्ल्ड न्यूज़ अरेबिया- सऊदी सरकार वर्ष 2017 सऊदी महिलाओं के नाम करना चाहती है और उन्हें ध्यान में रखते हुए काफी अहम् फैसले ले रही है. चाहे वो ड्राइविंग प्रतिबंध खत्म करना हो या बाइक चलाने की इजाज़त देना. मंत्रिमंडल में भी काफी महिलाओं को शामिल करने की योजना है. खले मंत्री का महत्वपूर्ण पद भी महिला को समर्पित किया गया. सऊदी अरब ने 2017 में सऊदी महिलाओं के लिए बहुत सारे अहम फैसले लिए, विज़न 2030 के तहत सऊदी अरब दुनिया के शक्तिशाली देशों में एक बनना चाहता है और महिलाओं को प्राथमिकता देना चाहता है.

कुछ महीने पहले सऊदी अरब ने महिलाओं के ड्राइविंग लाइसेंस पर लगे प्रतिबन्ध को हटाया था तो अब सऊदी अरब महिलाओं को ट्रैफिक फाॅर्स में शामिल करना चाहता है.

स्टेप फीड की खबरों एक मुताबिक सऊदी अरब के ट्रैफिक डिपार्टमेंट के डायरेक्टर जनरल मोहम्मद अल बस्समी ने घोषणा की कि सऊदी ट्रैफिक पुलिस फाॅर्स में जल्द ही सऊदी महिलाएं शामिल की जाएँगी.

स्थानीय समाचार पत्र के साथ हुए एक इंटरव्यू में अल बस्समी ने कहा की सऊदी अरब के उच्च अधिकारियों को सिफारिश भेज दी गयी है, ट्रैफिक अथॉरिटी अब राजा सलमान द्वारा अंतिम स्वीकृति का इंतजार कर रहा है, इससे पहले कि वह औपचारिक रूप से फैसला लागू कर सकें.

पश्चिमी देशों में महिलाओं की ट्रैफिक पुलिस में संख्या अन्य देशों के मुकाबले कही ज्यादा है

इस बयान के वायरल हो जाने पर हजारों लोगों ने ख़ुशी जताई.

(एक अच्छा निर्णय, उम्मीद है की राष्ट्रिय आर्मी और सुरक्षा बलों पर भी महिलाओं को दर्जा दिया जाये)

किसी ने ऐसे ख़ुशी जाहिर की.

कई महिलाएं उत्सुक हैं

(इसके लिए आवेदन कैसे करना है)

सऊदी में महिलाओं को दी गई प्राथमिकता 

सितंबर में महिलाओं के ड्राइविंग लाइसेंस पर लगे प्रतिबंध को हटाने पर सऊदी महिलाओं के लिए यह एक विजयी वर्ष रहा. अक्टूबर में, राज्य ने घोषणा की “कि देश में महिलाओं को अगले साल शुरू होने वाले स्टेडियमों में खेल आयोजनों में शामिल होने की अनुमति होगी”

हाल के महीनों में, राज्य ने देश में महिलाओं के अधिकारों को बेहतर बनाने के लिए भी महत्वपूर्ण कदम उठाए हैं, इनमें बाल विवाह, तलाक, गुंजाइश और बच्चों की हिरासत को नियंत्रित करने वाले सुधार कानून शामिल हैं.

महिलाओं के सन्दर्भ में सऊदी अरब को अक्सर अंतरराष्ट्रीय स्तर पर आलोचनाओं का सामाना करना पड़ता है, हालांकि, पिछले कुछ वर्षों में, इस मुद्दे पर गंभीर चिंतन किया गया है और कई नए कदम उठाये गए हैं.

हाल के महीनों में महिला ड्राइविंग पर लंबे समय तक लगे प्रतिबंध को हटाने के अलावा, देश ने महिला उम्मीदवारों के लिए नगरपालिका चुनाव खोले और शादी के लिए महिलाओं की मौखिक सहमति अनिवार्य करवाई.

सऊदी परिषद ने यात्रा दस्तावेजों को शासित करने वाले कानूनों में संशोधन की भी घोषणा की है, जिसे मंजूरी मिलने पर महिलाओं को बिना अनुमति के पासपोर्ट प्राप्त करने का अधिकार दिया जाएगा.

मई में राजा सलमान द्वारा जारी एक शाही डिक्री के अनुसार, राज्य की पुरुष अभिभावक प्रणाली, जो हमेशा महिलाओं की प्रगति के लिए एक बाधा के रूप में देखी गई है, जल्द ही जल्द ही समाप्त हो सकती है.