Home अरब देश गद्दी के लिए सऊदी राजकुमारों में मची भारी खींचतान

गद्दी के लिए सऊदी राजकुमारों में मची भारी खींचतान

विश्वसनीय सूत्रों के अनुसार सऊदी युवराज मोहम्मद बिन नायेफ ने हाल ही में वाशिंगटन में स्थित एसपीजी नामक लॉबिंग फर्म को पांच लाख डालर दिए थे

विश्वसनीय सूत्रों के अनुसार सऊदी युवराज मोहम्मद बिन नायेफ ने हाल ही में वाशिंगटन में स्थित एसपीजी नामक लॉबिंग फर्म को पांच लाख डालर दिए थे जिसका काम मीडिया कवरेज और सार्वजनिक मामलों में सऊदी अधिकारियों को सलाह देना था। और दुर्भाग्य से इस फर्म के ट्रम्प का बहुत करीबी रिश्ता है।

रिपोर्ट के अनुसार, दूसरी ओर सऊदी नरेश के पुत्र मोहम्मद बिन सलमान भी पोडीस्टा समूह और पी जी आर जैसी फरमज़ से अवैध संपर्क करने की कोशिश कर रहे हैं। ये कंपनियां भी एसपीजी से कम कीमत में अपनी सेवाएं प्रदान नहीं करती हैं।

विश्लेषकों का मानना ​​है कि दोनों सउदी राजकुमारों की ओर से इस तरह के कदम का उद्देश्य स्वंय को दिखाना और 81 वर्षीय सऊदी नरेश सलमान बिन अब्दुल अज़ीज़ की कुर्सी हासिल करना है कि जो वर्तमान में बढ़ती आयु में बीमारियों से जूझ रहे हैं।

वर्तमान में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प सऊदी अरब के दौरे पर हैं जिनकी यात्रा के बारे में अमेरिकी विदेश मंत्री ने जानकारी प्रदान करते कहा कि उनका उद्देश्य अरब देशों को इजरायली सरकार की ओर आकर्षित करना है ताकि वे यहूदी सरकार के नेतृत्व में ईरान का मुकाबला करने के लिए तैयार हो सके।

गौरतलब है कि मार्च के महीने में मुहम्मद बिन सलमान ने व्हाइट हाउस में डोनाल्ड ट्रम्प से मुलाकात की थी।