Home अरब देश सऊदी अरब- घर-घर जाकर ज़रूरतमंदों को सर्दियों के महंगे कपड़े कम दाम...

सऊदी अरब- घर-घर जाकर ज़रूरतमंदों को सर्दियों के महंगे कपड़े कम दाम में क्यों दे रहा है शख्स?

source-saudi gazzet

आजकल सऊदी अरब के मक्का में ट्रक ड्राईवर ट्रक में गरम कपड़ों की बिक्री कर रहे हैं, ताकि घर-घर जाकर वह यह कपड़े महिलाओं, पुरुषों और बच्चों को बेच सकें, जिससे की वह ज़्यदा ठंड से बच सकें.

अब्दुल्ला जुलैद, अरबी दैनिक अल-वतन के एक संवाददाता ने, नज़रान और असिर प्रांतों के शहरों का दौरा किया ताकि इन विक्रेताओं की गतिविधियों को देख सकें और इन विक्रेताओं से इनके इस व्यापार की सफलता के पीछे के रहस्य को जान सके.

जुलैद ने नज़रान शहर, धहरान अल-जानौब, हरजा और सरत ओबामा में देखा की कई लोग हैं जो अत्यधिक ठंड के मौसम से प्रभावित हो रहे हैं और अपने आस-पास कपड़ों से भरे इन ट्रक्स में सर्दियों के कपड़ो को तलाश रहे हैं. जुलैद ने देखा की “इनमें से कुछ विक्रेता हाई क्वालिटी वाले कपडे दुकानों और सुपरमार्केट की तुलना में सस्ती दरों पर बेच रहे हैं, इन विक्रेताओं को लाइसेंस धारक दुकानदारों ने कहा की “के कार्यों ने उनके व्यवसायों को नकारात्मक रूप से प्रभावित किया है.”

source-saudi gazzet

उन्होंने देखा की “स्ट्रीट विक्रेता ना केवल लाइसेंस वाले व्यापारियों से, बल्कि नगरपालिका के निरीक्षकों और वाणिज्य मंत्रालय के निरीक्षकों से भी डरते हैं, जो लाइसेंस के बिना व्यवसाय करने वालो के प्रोडक्ट को जब्त करते हैं.”

जुलैद ने कहा की “दुकानें ज्यादा कीमतों पर स्वेटर और अन्य शीतकालीन कपड़ों को बेचते हैं, जो सर्दी आने पर अपने सामानों की कीमत बढाकर फायदा उठाते हैं, दूसरी तरफ, ये विक्रेता कम कीमतों पर वही सामान बेचते हैं, यह कम लाभ लेते हैं.

source=saudi gazzet

मुबारक जो एक स्ट्रीट विक्रेता है उन्होंने कहा कि वे सितंबर से जनवरी तक सर्दियों के कपड़े बेचते हैं और फिर सर्दियां चले जाने पर अपना व्यापर बंद कर देते हैं.

मुबारक ने बताया की “यह आसान काम नहीं है क्योंकि इसके लिए बहुत धैर्य और धीरज की आवश्यकता होती है, हमें अत्यधिक ठंड का सामना करना पड़ता है क्योंकि व्यापार 4 बजे शुरू होता है और 10 बजे तक जारी रहता है, हम रियाद और खामिस मुश्तात के थोक विक्रेताओं से कपड़े खरीदते हैं.”

मोहम्मद सलीम, एक और विक्रेता है उन्होंने ने कहा कि उन्होंने मस्जिदों और अन्य सार्वजनिक स्थानों के पास कारोबार करते समय नगरपालिका से कोई दबाव या परेशानी का सामना नहीं किया था. उन्होंने कहा की “मुझे पता है कि बहुत से लोग इस व्यवसाय से अपना गुजारा कर रहे हैं और कई ऐसे भी हैं जिन्होंने यह व्यवसाय छोड़ दिया क्योंकि उन्हें लगता है की यह व्यापार उनके लिए लक्की नहीं है. इसके लिए बहुत सब्र की ज़रूरत होती है और लोगों को मुश्किल मौसम की स्थिति का सामना करना पड़ता है.”

सलीम ने कहा कि उनके जैसे विक्रेताओं अक्सर दुकान मालिकों से बैकलैश से बचने के लिए अपने वाहनों को बाजार से दूर रखने के लिए कपड़े बेचते हैं क्योंकि हम उनके साथ गुणवत्ता और कीमत में प्रतिस्पर्धा करते हैं.

जुलैद ने कहा की “वह सारे विक्रेताओं से मिले, हालाँकि उन्होंने फोटो खिचवाने से मना कर दिया.” उन्होंने कहा कि “उनका शैक्षिक स्तर या तो प्राथमिक या मध्यवर्ती था, और उन विक्रेताओं नगरपालिका से मिली अनुमति के लिए नगर पालिका की प्रशंसा की. सर्दियों के अंत में, ये विक्रेता फल और सब्जी बेचते हैं या क्षेत्रों और शहरों के बीच टैक्सियों को संचालित करते हैं.