Home अरब देश सऊदी अरब: फैशन शो में दिखी पारंपरिक सऊदी पोशाक

सऊदी अरब: फैशन शो में दिखी पारंपरिक सऊदी पोशाक

source: Arab News

रियाद: सोमवार को किंग अब्दुल अज़ीज़ फाउंडेशन में महिलाओं के लिए एक फैशन शो का आयोजन किया गया. जिसमें राज्य की पारंपरिक क्षेत्रीय कपड़ों का प्रदर्शन किया गया.

नेशनल हेरिटेज सोसाइटी कार्यक्रम ने पारंपरिक सऊदी कपड़ों को बेहद ख़ास और मॉडर्न (आधुनिक) तरीकों से दिखाया गया. जिसमें सऊदी मॉडलों ने हर क्षेत्र की अलग-अलग पारंपरिक पोशाक पहनकर प्रदर्शन किया.

सोने में कशीदाकारी वाली लाल रंग की पोशाक मे स्टेज पर लहराते हुए एक मॉडल ने शो का शुभारंभ किया. वह सिर से पैर तक पूरी ढकी हुई थी. सिर्फ उसकी खूबसूरत आँखें ही दिखाई दे रही थीं. इसके बाद से मॉडलों ने रैंप पर अपनी दमदार एंट्री करना शुरू कर दिया.

इस कार्यक्रम में राजकुमारी नोफ बिंत फैसल बिन तुर्की शामिल रहीं और अरब केंद्रों द्वारा इस कार्यक्रम को प्रायोजित किया गया. सभी कार्यक्रम के संजीत के जश्न में डूबे रहे. कार्यक्रम का माहौल बहुत ही खुशनुमा था जहाँ सफेद कुर्सियों पर लोग बेठे थे और तालिकाओं से शो की रौनक बढ़ा रहे थे. मेहमान बड़े खजूर के पेड़ों के बीच बैठे थे.

अरब न्यूज़ के मुताबिक, रोटाना टीवी ने इस कार्यक्रम को कवर किया. इस कार्यक्रम को रौया रयान ने होस्ट किया उन्होंने पारंपरिक सऊदी जलाबिया पोशाक पहनी थी. कार्यक्रम में सऊदी महिलाओं के लिए कई पारंपरिक क्षेत्रीय कपड़ों को प्रदर्शित किया गया. हर मॉडल ने सऊदी के हर एक अलग क्षेत्र की  पारंपरिक पोशाक पहनी थी. जिसने सऊदी की विरासत का प्रतिनिधित्व किया.

कई महिलालों ने कपड़ों के स्टाल लगाये थे. प्रतिभागियों में से एक बिन गेत टेक्सटाइल्स, जो किंग सऊद के दिनों से एक प्रमुख रियाद प्रतिष्ठान है, जो पारंपरिक कपड़े बेच रही थी.

“सोफरत सऊद एक मशहूर पोशाक है जिसे किंग सऊद के दिनों से पहना जाता है. अल जज़ी बिन गेत जो संस्थापक की परपोती है उन्होंने कहा कि, यह भारत से लाया गया था और तब से इसे सऊदी की शादियों में पहना जाता है.”

कार्यक्रम में मौजूद लोगों ने कहा कि मॉडल पारंपरिक कपड़ों में बेहद्द खूबसूरत लग रही थी. इन चमकदार कपड़ों में हर महिला बेहद खूबसूरत लग रही है. नेशनल हेरिटेज सोसाइटी कार्यक्रम की निदेशक बसवा अल-नोयशर ने बताया कि इस कार्यक्रम का उद्देश्य सऊदी की परंपराओं को बढ़ावा देना और उन्हें सुरक्षित रखना है.