Home अरब देश फिलीस्तीन की आजादी की मांग के साथ नेतन्याहू के भारत दौरे का...

फिलीस्तीन की आजादी की मांग के साथ नेतन्याहू के भारत दौरे का विरोध शुरू

नई दिल्ली। इजरायल के प्रधानमंत्री बेन्जामिन नेतन्याहू भारत दौरे पर आ रहे हैं. नेतन्याहू के दौरे को लेकर भारत में उनका विरोध भी होना शुरू हो गया है. भारत के तमाम संगठनों ने नेतन्याहू का विरोध करना शुरू कर दिया है. लोगों का कहना है कि नेतन्याहू का भारत दौरा ऐसे वक्त हो रहा है जब भारत ने इजरायल को दोहरा झटका दिया है.

दरअसल भारत ने इजरायल के साथ राफेड डील से हाथ वापस खींच लिए हैं. साथ ही इजरायल को दोहरा झटका देते हुए यरूशलम के मसले पर यूएनओ में फिलीस्तीन के समर्थन में वोट भी दिया था. बेन्जामिन नेतन्याहू के भारत दौरे पर अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष फैजुल हसन कहते हैं कि भारत शुरू से फिलीस्तीन के समर्थन में रहा है. जबकि इजरायल हमेशा से फिलीस्तीन की आवाम पर जुर्म ढहाता रहा है. ऐसे में एक जालिम देश के राष्ट्राध्यक्ष के साथ भारत को कोई समझौता नहीं करना चाहिए.

फैजुल हसन ने कहा कि भारत में इजरायली प्रधानमंत्री का विरोध किया जाएगा. वहीं दिल्ली के सामाजिक कार्यकर्ताओं ने सोशल साइट के जरिए विरोध करना शुरू कर दिया है. सोशल साइट पर कई लोगों ने नेतान्याहू के दौरे को लेकर लिखा है कि भारत को इजरायल के साथ किसी तरह का संबंध नहीं रखना चाहिए. भारत को इजरायल से कहना चाहिए पहले वह फिलीस्तीनियों पर जुर्म बंद करे, इसके बाद ही कोई द्विपक्षीय वार्ता होगी.

आपको बता दें कि बेंजामिन नेतन्याहू 14 जनवरी को अपनी चार दिवसीय दौरे पर भारत आ रहे हैं. इस दौरान वो पीएम मोदी को एक खास तोहफा भी देंगे. रिपोर्ट के मुताबिक खारे पानी को पीने लायक शुद्ध बनाने वाले गल-मोबाइल जीप पीएम मोदी को तोहफे में मिलने वाला है. इस जीप की कीमत करीब 3.9 लाख शेकेल यानी करीब 70 लाख रुपए है.