Home अरब देश यमन में सऊदी मदद की खुली पोल, सामने आया सच – ईरानी...

यमन में सऊदी मदद की खुली पोल, सामने आया सच – ईरानी मीडिया

यमन पर सऊदी गठबंधन के आक्रमण को दो साल से अधिक समय बीत गया और यमन मे सऊदी के नेतृत्व मे होने वाली बमबारी से यमन के अनगिनत क्षेत्र खंडहर मे बदल गए है और यूरोपीय संघ मे सऊदी अरब की राजनीतिक परिषद ने ट्विटर पर अपने आधिकारिक पेज पर यमनी नागरिको के लिए 845 मिलियन यूरो की सहायता प्रदान करने का दावा किया है।
ईन्रा की रिपोर्ट अनुसार बुधवार को यूरोपीय संघ मे सऊदी अरब की राजनीतिक परिषद् ने सामाजिक नेटवर्क ट्विटर पर अपने आधिकारिक पेज पर सऊदी की यमन पर बमबारी से होने वाले अनगिनत नुकसान को छुपाते हुए 2015 से अब तक 548 मिलियन यूरो की लगभग 26 मिलियन यमनी नागरिको को सहायता प्रदान करने का दावा किया है

सऊदी अरब की राजनीतिक परिषद् की ओर से किया गया दावे का झूठ उस समय खुल कर सामने आया जब 25 अप्रैल मंगलवार को जिनेवा मे संयुक्त राष्ट्र के महासचिव ने कहा, हर 10 मिनट मे भुखमरी और महामारी के कारण एक 5 वर्ष से कम आयु का यमनी बच्चा अपना जीवन खो देता है।

ह्यूमन राइट्स वॉच मे मध्यपूर्व के निदेशक अहमद बिन शमसी ने अमेरिका, ब्रिटेन और अन्य देशो से सऊदी अरब को हथियारो की बिक्री रोकने का आग्रह किया ताकि सऊदी अरब यमन पर हवाई हमलो मे कमी लाए और इस संदर्भ मे गठबंधन जांच प्रक्रिया आरम्भ करे।

उन्होने कहा कि सऊदी अरब के नेतृत्व मे सऊदी गठबंधन द्वारा अतीत मे किए गए शोध निष्पक्ष और विश्वासनीय नही है, सऊदी के नेतृत्व मे अरबी गठबंधन यमन मे नागरिक ठिकानों और बुनियादी ढांचे के खिलाफ हवाई हमले जारी है और यमन पर सैन्य आक्रमण के आरम्भ (25 मार्च 2015) से ही यमन की जमीन, पानी और हवा की घेराबंदी कर रखी है।

अब तक अरबी गठबंधन के सैन्य हमलो मे 12 हजार से अधिक यमनी नागरिक मारे, हजारो घायल और लाखो बेघर हो चुके है।