मदीना जहां इस समय उत्तेजना देखी जा रही हैं और कार्यक्रमो की होड़ लगी हुई हैं, क्योकि सऊदी अरब अगले साल 2017 की शुरुआत में सबसे महत्वपूर्ण कार्यक्रम, ‘मदीना, इस्लामी पर्यटन की राजधानी’ की मेज़बानी करने की तैयारी कर रहा हैं.

दिसम्बर 2015 में नियमे की राजधानी नाइजर में इस्लामी सहयोग संगठन के सदस्य देशों के पर्यटन मंत्रियों की एक बैठक में मदीने को सम्मानित करने के लिए चयनित किया गया था.

मदीना जहां 200 से अधिक स्थल और पर्यटक स्थल मौजूद हैं इसके साथ-साथ मदीना इस्लामिक संस्कृत से भी अमीर हैं. यहाँ पैगम्बर-ए-इस्लाम मोहम्मद सलल्लाहो अलह वसल्लम का रोज़ा-ए-अनवर मौजूद हैं.

साथ ही दुनिया का दूसरा सबसे पवित्र स्थल मस्जिद-ए-नबवी मोहम्मद सल्ललाहो अलह वसल्लम भी स्थित हैं. इसके अतरिक्त क़ुबा का महल और हेजाज़ रेल संग्रहालय जैसे स्थान भी हैं.

सऊदी अरब के पर्यटन और राष्ट्रीय विरासत के आयोग ने गुरुवार को ऐलान किया कि सरकार सोमवार को एक कार्यक्रम को आयोजित करेगी जिसके अन्तर्गत इस्लामी मामलों का मंत्रालय, कॉल और मार्गदर्शन और अल-तुरत चैरिटी फाउंडेशन के साथ ऐतिहासिक मस्जिदों का मुआयना करेगी.

स्थानीय मीडिया के अनुसार 40 स्थानों पर 300 से अधिक कार्यक्रमो का आयोजन किया जायेगा जिसके अन्तर्गत रोचक और आकर्षक सांस्कृतिक और पर्यटन कार्यक्रमो को पेश किया जायेगा.

Web-Title: Madinah is ready to become the capital of Islamic Tourism

Key-Words: Islamic, Tourism, Capital, Saudi Arab

न्यूज़ अरेबिया एकमात्र न्यूज़ पोर्टल है जो अरब देशों में रह रहे भारतीयों से सम्बंधित हर एक खबर आप तक पहुंचाता है इसे अधिक बेहतर बनाने के लिए डोनेट करें
डोनेशन देने से पहले इस link पर क्लिक करके पढ़ें Click Here

वर्ल्ड न्यूज़ अरेबिया का यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें :-


आज की पसंदीदा ख़बरें
Loading...

शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here