Home अरब देश भारतीय कर्मचारियों को चेतावनी, विजिट वीज़ा लेकर ना आयें अमीरात में

भारतीय कर्मचारियों को चेतावनी, विजिट वीज़ा लेकर ना आयें अमीरात में

source: Khaleej Times

कर्मचारियों को सावधान रहने की ज़रूरत है और उन्हें अपने वीज़ा भारत सरकार द्वारा अनुमोदित एजेंसी से ही लेने चाहए.

भारतीय सांस्कृतिक कल्याण निधि (ICWF) ने दुबई में भारत के कंसुलेट जनरल ने इस साल कुल 379 हवाई टिकट जारी किए गए थे, जिसमें समुद्री हवाई जहाज़, चिकित्सा मुद्दों में फंसे कर्मचारी शामिल थे.

कांसुलेट जनरल ने कहा कि, बड़ी संख्या में टिकेट जारी किये गये थे जिनमे कुछ भारतीय नागरिकता वाले लोग शामिल है, जो विजिट वीज़ा के साथ दुबई पहुंचे थे. इन लोगों ने विजिट वीजा को एम्प्लॉयमेंट यानी रोज़गार वीजा में तब्दील नहीं करवाया था.

अरबी समाचार पत्र खलीज टाइम्स ने  हुई भारतीय कर्मचारियों के लिए एक जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया. विपुल ने जोर देकर कहा कि कर्मचारियों को जागरूक होना चाहिए, और भारत में सरकारी अनुमोदित एजेंट द्वारा ही प्राप्त किया जा सकेगा या फिर ई-माइग्रेट सिस्टम से भी सम्पर्क कर सकते है.

source: Khaleej Times

विपुल ने कहा कि बड़ी संख्या में जो लोग यहाँ आते है उनसे एजेंट पैसों की वसूली करते है. वहीँ विपुल ने यह भी बताया की भर्ती से पहले कर्मचारी अपनी नौकरी के पद और वेतन की जानकारी भी प्राप्त कर सकते है.

शुक्रवार की सुबह अमाना वर्कर्स अकोमोडेशन के आवास, अल क्यूज में 500 से ज्यादा मजदूरों ने वित्तीय धोखाधड़ी, शराब और तम्बाकू का दुरूपयोग,राष्ट्रीय पेंशन योजना और कई अन्य मुद्दों से संबंधित मुद्दों के बारे में जानकारी दी गयी, जो लगभग सभी कर्मचारियों के समुदाय को ही प्रभावित करता है.

source: Livemint

यह आयोजन भारतीय श्रमिक संसाधन केंद्र (IWRC) द्वारा आयोजित किया गया था और यह पहली बार है कि एक कांसुलेट-जनरल ने करमचारियों के लिए एक जागरूकता कार्यशाला में शामिल हुए थे. विपुल ने कर्मचारियों को काम के वक़्त होने वाली परेशानियों पर वाणिज्य दूतावास द्वारा दी गयी कई सुविधाओं के बारे में बात की.

बरटी सौह्नी जो एक अल्कोहलिक एनोनिमस के स्पोक पर्सन और डॉ.टी सी सतीश ने कर्मचारियों को तम्बाकू और शराब के सेवन से होने वाली जानलेवा बीमारियों के बारे में बताया और उनसे दूर रहने की हिदायत दी.