Home अरब देश दुबई- रूममेट का कत्ल करने पर भारतीय वर्कर को 25 साल की...

दुबई- रूममेट का कत्ल करने पर भारतीय वर्कर को 25 साल की सज़ा

दुबई में एक भारतीय वर्कर को दस साल की सजा हुई थी, क्योंकि उसने शराब के नशे में अपने रूम मेट को मौखिक अपशब्द बोल कर खिड़की से बाहर फेंक कर अपने रूममेट की हत्या कर दी, हालांकि मृतक के घरवालों की अपील के बाद मुलजिम की सज़ा बढ़ा कर आजीवन कारावास(25 साल) देने का फैसला लिया गया.

कोर्ट ऑफ अपील ने हत्या के आरोप में दोषी ठहराए गए 30 वर्षीय भारतीय मजदूर को जेल की सज़ा सुनाई और उसके खिलाफ निर्वासन आदेश को भी बरकरार रखा.

कोर्ट ऑफ फर्स्ट इंस्टॉन्स ने अक्टूबर 2017 में भारतीय मजदूर को दोषी पाया और उसे 10 साल की जेल और निर्वासन की सज़ा सुनाई थी,बाद में अपीलीय अदालत ने उसे जेल में 25 साल और निर्वासन के लिए सज़ा सुनाई.

अदालत के रिकॉर्ड से पता चलता है कि दोनों पुरुषों ने शराब का सेवन किया था जब उनकी लड़ाई हुई थी, मुलजिम ने दावा किया की “मृतक ने उसकी बहन और माता को अपशब्द कहे, जिस वजह से व्यक्ति ने गुस्से में आकर उसे खिड़की से बाहर फेंक दिया, भारतीय वर्कर ने देख लिया था की उसका रूम मेट बुरी तरह से घायल हो चूका है, परन्तु वह उसको बचाने के बजाय सो गया और मृतक की घटनास्थल पर ही मौत हो गयी.

दोनों व्यक्तियों ने शराब पी हुई थी, परन्तु मुलजिम को पता था की वह क्या कर रहा है और इसके अंजाम क्या हो सकते हैं. यह मामला 11 नवंबर, 2016 की तारीख में जेबेल अली का है.

एक पुलिस लेफ्टिनेंट ने कहा की “हमें जेबेल अली में एक श्रमिक आवास की खिड़की से किसी के गिरने की सूचना दी गयी, अन्य श्रमिकों ने हमें बताया कि दोनों लोग शराब पी रहे थे और तभी वे अचानक लड़ने लगे.”

पुलिस लेफ्टिनेंट ने कहा की “वहां क्या हुआ, इसका कोई गवाह नहीं था, हालाँकि मुलजिम ने दावा किया कि पीड़ित ने उसे एक गिलास पानी लाने के लिए कहा और फिर उसे थप्पड़ देना शुरू कर दिया और मौखिक रूप से मुलजिम की मां और बहनों का अपमान किया, जिससे की मुलजिम ने पीड़ित को खिड़की से बाहर धक्का दे दिया.

मृत्यु का कारण सिर की गंभीर चोट, हड्डी का फ्रैक्चर और मस्तिष्क रक्तस्राव था.