Home अरब देश तेल से परे आर्थिक विकास की योजनायें बनाने में व्यस्त सऊदी अरब

तेल से परे आर्थिक विकास की योजनायें बनाने में व्यस्त सऊदी अरब

वित्त मंत्री मोहम्मद अल जदान ने कहा है कि  सऊदी अरब द्वारा सरकारी परियोजनाओं की लागत में कटौती करने वाली संस्था ने  17 बिलियन सऊदी रियाल (4.53 अरब डॉलर) की बचत की अपील की है. सरकारी सूत्रों ने बताया कि रियाध ने मंत्रालयों और एजेंसियों को अस्थिर बुनियादी ढांचा और आर्थिक विकास परियोजनाओं की समीक्षा करने के लिए आदेश दिया ताकि उन्हें ठंडे बस्ते में डालने या पुनर्गठन के लिए देखा जा सके.

यह कारवाई सुधार योजना का हिस्सा है जिसका उद्देश्य हाइड्रोकार्बन राजस्व पर निर्भरता से अपनी अर्थव्यवस्था को दूर रखना और कच्चे तेल की कीमतों में कमी से निपटने के लिए एक उदारवादी देश का समर्थन करना है. अल जदान ने कहा कि ब्यूरो ऑफ़ कैपिटल और ऑपरेशनल स्पेंडिंग रैशनलाईजेशन की स्थापना के बाद से 2016 में 80 अरब सऊदी रियाल की बचत पर प्रकाश डाले जाने के बाद से यह दूसरा प्रयास है.

वे सिर्फ ये सुनिश्चित कर रहे थे कि प्रोजेक्ट्स सबसे कुशल तरीके से किये गए हैं. वे अपना काम ख़त्म करने वाले हैं, और अब तक उन्होंने 15 बिलियन सऊदी रियाल की बचत की है. 5 प्रतिशत मूल्य-वर्धित कर की शुरुआत से सऊदी सरकार के खजाने को भी बढ़ना चाहिए. अल जदान ने कहा कि सऊदी अरबी 1 जनवरी 2018 कोर्धरित समय पर कर के लिए तैयार है.

अर्थव्यवस्था को मजबूत बनाने में मदद करने के लिए, सऊदी अरब कई बड़ी विकास परियोजनाओं की तैयारी कर रहा है. सबसे पहले, रियाध के दक्षिण में एक एंटरटेनमेंट सिटी, दक्षिण में खेल, सांस्कृतिक और मनोरंजक सुविधाओं सहित एक सफारी और एक सिक्स फ्लैग थीम पार्क होगा, जिनका इस महीने का अनावरण किया गया था. अल-जदान ने कहा कि अक्टूबर में जब सार्वजनिक निवेश कोष अपनी रणनीति का खुलासा करेंगे, तब आगे की योजनाओं की घोषणा की जाएगी.