Home अरब देश अगले महीने होगी ‘येरुशलम मुद्दे’ पर अरब विदेश मंत्रियों की बैठक

अगले महीने होगी ‘येरुशलम मुद्दे’ पर अरब विदेश मंत्रियों की बैठक

source: Al Arabiya

अरब लीग ने बुधवार को कहा कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के यरूशलेम को  इज़राइल की राजधानी की मान्यता देने वाले फैसले के खिलाफ लिए गए कदमों पर चर्चा करने के लिए अरब विदेश मंत्रियों की बैठक अगले महीने शुरू होगी.

लीग परिषद की बैठक 1 फरवरी को कैरो में आयोजित की जाएगी,इस बात की पुष्टि  सामान्य सचिवालय ने एएफपी द्वारा प्राप्त मेमो से करी.

तेल अवीव से येरुशलम में अमेरिकी दूतावास को स्थानांतरित करने के लिए दिसंबर में ट्रम्प के फैसले ने फिलीस्तीनी क्षेत्रों तनाव का माहौल पैदा कर दिया था और जिसे संयुक्त राष्ट्र ने खारिज कर दिया था. संयुक्त राष्ट्र में फिलिस्तीन के समर्थन में 128 देशों ने मतदान करके अपना समर्थन ज़ाहिर किया था जबकि ट्रम्प को सिर्फ 6 देशों ने मतदान किया था. वहीँ OIC की बैठक में येरुशलम को इजराइल की राजधानी घोषित कर दिया था.

जॉर्डन ने शनिवार को कहा कि लीग अपने पूर्व दिशा में पूर्वी येरुशलम के साथ फिलिस्तीनी राज्य को अंतरराष्ट्रीय मान्यता देने के कई विचार विमर्श करेंगे.

दिसंबर में एक आपात बैठक के बाद एक प्रस्ताव में, अरब विदेश मंत्रियों ने अपने फैसले को रद्द करने के लिए अमेरिका से आग्रह किया था और कहा कि अमेरिका अब और फिलिस्तीन की शांति प्रतिक्रिया में खलल नहीं डालेगा.

1967 से इजराइल ने पूर्व यरूशलेम और वेस्ट बैंक पर कब्जा कर लिया और इसके बाद से किसी भी अंतरराष्ट्रीय समुदाय ने पूर्व येरुशलम को इजराइल की राजधानी के रूप में मान्यता नहीं दी थी. आपको बता दें कि, इजरायल-फिलिस्तीनी संघर्ष दुनिया के सबसे विवादास्पद मुद्दों में से एक है.

इज़राइल यरूशलेम को अपनी राजधानी बनाने का दावा करता आया है, जबकि फ़िलिस्तीनी लोग पूर्व येरुशलम को फिलिस्तीन की राजधानी से रूप में देखते है. अल अरेबिया के मुताबिक, अंतर्राष्ट्रीय समुदाय इस प्राचीन शहर को इजरायल की राजधानी के रूप में मान्यता नहीं देना चाहता.