अध्यन के आधार पर अधिकारियो का कहना हैं कि साल 2016 में करीब 18000 इस्राइली सुरक्षा बलों और यहूदियो ने मस्जिद अल-अक़्सा पर हमला किया हैं. ये अध्यन लन्दन की न्यूज़ एजेंसी द्वारा प्रकाशित की गयी. जिसको फिलिस्तीनी 48 के नाम से जाना जाता हैं.

अध्यन के अनुसार इस्राइली श्रद्धालु जोकि माउंट एक्टिविस्ट समूह से जुड़े हैं, और यहूदी छात्र भी इस हमले में शामिल हैं. बीते साल का अक्टूबर का महीने में मस्जिद अल-अक़्सा पर सबसे अधिक हमले किये गए. इस महीने में सबसे अधिक कट्टर यहूदियों ने मस्जिद अल-अक़्सा में प्रवेश किया.

इसी महीने में संयुक्त राष्ट्र द्वारा इस्राइल के खिलाफ प्रस्तावित बिल के बाद इस्राइल ने यूनेस्को के साथ अपना सहयोग खत्म कर दिया था. इस बिल में इस्राइल की मस्जिद अल-अक़्सा के सम्बन्ध में बनायीं गयी नीतियों की कड़ी आलोचना की.

उल्लेखनीय हैं कि हाल ही में संयुक्त राष्ट्र की सुरक्षा परिषद् द्वारा इस्राइल के फिलिस्तीनी ज़मीन पर अवैध कब्ज़े के खिलाफ बिल पारित कर दिया हैं. जिसका इस्राइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने भी विरोध किया हैं और मानने से इनकार कर दिया.


Urdu Matrimony - अरब देशों में शादी करने के इच्छुक है तो यहाँ क्लिक करके फ्री रजिस्टर करें

Comments

comments

loading...

अरब देशों में नौकरी करना चाहते है तो यहाँ क्लिक करें