भारत की लिंगायत समुदाय की धर्मगुरु महिला जगदगुरु माते महादेवी ने भारत में हाल के दिनों में महिलाओं के साथ हुई यौन उत्पीड़न की हुई घटनाओ को संज्ञान में लेते हुए कहा हैं कि भारत की महिलाओं को अरब की महिलाओं की तरह पोषक पहननी चाहिए.

उन्होंने भारत की महिलाओं से अपील की वे इन घटनाओं से बचने के लिए अरबी महिलाओं के तौर-तरीकों का अनुसरण करने की करे. भारतीय महिलाओं को सलाह देते हुए उन्होंने कहा कि अरबी महिलाओं की तरह शालीन कपड़े पहनना चाहिए. और ये कपड़े पुरे शरीर को ढकने वाले होने चाहिए. जिस तरह अरबी महिलाएं पहनती हैं.

इसी के साथ उन्होंने यौन उत्पीड़न के बड़ते मामलों में महिलाओं को रात में बाहर घुमने की वजह को भी प्रमुख माना. उन्होंने कहा कि समाज में महिलाओं के ख़िलाफ़ बढ़ रहे यौन हिंसा के मामलों के लिए महिलाएं खुद भी आंशिक रूप से ज़िम्मेदार हैं.

भारत जे बंगलुरु शहर में नये साल की संध्या पर लड़कियों के साथ हुई छेड़छाड़ की घटना का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि लड़कियों को नये साल का जश्न मनाने के लिए भड़काऊ कपड़े नहीं पहनने चाहियें थे. इस तरह का व्यवहार यौन हिंसा करने वालों को बढ़ावा देता है. उन्होंने अरब देशों की तरह भारत में भी महिलाओं के लिए ड्रेस कोड लागू किये जाने की मांग की.