भारत के मुरादाबाद ज़िले से एक मामला सामने आया हैं, जहा ज़िले का सबसे बड़ा प्रशासनिक अधिकारी अपनी पहचान बाते बिन सड़को पर लोगो की समस्याओ को सुन रहा हैं. ये मामला गुरुवार की रात का हैं. जब शहर के डीएम जुहैर बिन सगीर सड़क पर निकल पड़े शॉल ओढ़े.

पहले एक व्यक्ति को गजक खरीदते देखा गया, देखते ही देखते इस नुक्कड़ पर भीड़ जमा हो गयी, जब लोगो ने करीब से देखा तो पता चला ये शेर के सबसे बड़े अधिकारी हैं. फिर क्या था इतने में पत्रकार, मीडिया मंडल मौके पर पहुँच गया.

9 बजे डीएम गली मोहल्लों के चाय होटल तथा गजक स्टाल पर रूककर आम लोगों से बातचीत के दौरान आम लोगों की समस्या जानने का प्रयास कर रहे थे. वो समस्याएं सुन ही रहे थे कि एक व्यक्ति ने उनको पहचान लिया.

भारत के एबीपी न्यूज़ चैनल के अनुसार, डीएम जुहैर बिन सगीर मुरादाबाद ज़िले के थाना गलशहीद के पास जिगर पार्क सामने पहुंचे थे जहां रातभर रिक्शा चालक ठण्ड में आकर चाय पिटे हैं. वहां वे रात 9 बजे से 09:40 तक बैठकर लोगों से बात करते रहे, और शहर के अन्य इलाको में भी उन्होंने ऐसे ही गश्त किया.

वहां अलग-अलग दुकानों से गजक लेकर उनसे बातों ही बातों में शहर की समस्या जानी, लेकिन कहीं से भी किसी को ये अंदाजा नहीं लगा कि ये डीएम हैं. डीएम ने पत्रकारों को बताया कि शहर की समस्याओं तथा चुनाव के माहौल को लेकर काफी बातचीत हुई. लोगों ने अपनी समस्या भी बताई.

इसके साथ डीएम अपने एक दोस्त के साथ बाइक पर अपनी कोठी से शाल ओढ़कर निकले. उनके स्टाफ तक को ये जानकारी नहीं थी कि डीएम साहब बाइक पर बैठकर कोठी से बाहर निकल गये हैं.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह करने के इच्छुक है तो रिश्ते के लिए लडकें/लड़कियों के फोटो देखें - फ्री रजिस्टर करें

Comments

comments

loading...

अरब देशों में नौकरी करना चाहते है तो यहाँ क्लिक करें